क्या करें जब आपका साथी आपसे बातें छुपाने लगे

ऋचा और अनमोल चार साल से साथ है.

पहले दोस्ती और फिर रिलेशनशिप में आकर दोनों बहुत ही खुश थे और इस रिश्ते को शादी तक ले जाना चाहते थे। लेकिन बीते कुछ दिनों से ऋचा को यह बात परेशान कर रही है की अनमोल उससे कुछ छुपा रहा है. अनमोल से पूछने पर वह ठीक से कुछ बताता नहीं है

, और इसी वजह से दोनों के बीच अक्सर झगड़े होने लगे है। हालाँकि अनमोल ऋचा से बहुत प्यार करता है, और उसे धोखा देने के बारे में सोच भी नहीं सकता। लेकिन वह कुछ बातें किसी से नहीं बाँटना चाहता और ऋचा उनमें से ही एक है.

 

यहाँ बात सिर्फ ऋचा और अनमोल की ही नहीं है.

बल्कि ऐसे कई प्रेमियों के रिश्ते इस समस्या की भेंट चढ़ रहे है. रिश्ता चाहे पति-पत्नी का हो या गर्लफ़्रैंड-बॉयफ़्रैंड का, शेयरिंग इसमें अहम क़िरदार निभाती है. चूँकि ज़िंदगी साथ बितानी है, तो कई चीज़ें और कई बातें आपस में ख़ुशी-ख़ुशी बांटी जाती है. लेकिन कभी-कभी कोई रिश्ता ऐसे मोड़ पर आ जाता है,

जब आपको महसूस होता है की आपका साथी आपसे कुछ छुपा रहा है.

ऐसे में कई तरह की असुरक्षा मन में घर करने लगती है और आपके रिश्ते पर भी उसका नकारात्मक असर दिखने लगता है। अपने रिश्ते को बचाने के लिए आपको कुछ बातें ध्यान रखनी होंगी।

  1. पर्सनल स्पेस है बहुत ज़रूरी।

     

हर रिश्ते में थोड़ी आज़ादी मिलना बहुत ज़रूरी है। एक-दूसरे की बहुत ज़्यादा दख़लअंदाज़ी रिश्ते में घुटन पैदा करती है। अगर आपका पार्टनर आपको अभी कोई बात नही बता रहा है तो इसका यह मतलब नही है की वो आपको कभी नही बताएगा। सही वक़्त का इंतज़ार कीजिये। 

  1. अपने साथी पर हावी ना होये।

     

जब आप किसी पर हावी होते है तो वह खुद-ब-खुद आपसे कटने लगता है। जब रिश्ता साझेदारी और बराबरी का है तो किसी एक का भी दूसरे पर हावी होना कुछ छुपाने का कारण बन सकता है। 

  1. हर बात में झगड़ा ना करें।

     

गुस्से में अक्सर इंसान बहुत कड़वा बोल जाता है और अगर यह झगड़े बार-बार होने लगे तो यही कड़वाहट आपके रिश्ते में भी घुलने लगती है। आपका साथी आपसे कुछ भी शेयर करने से कतराने लगता है क्योकी उसे डर होता है की कहीं आप उनसे फिर ना झगड़े। इसीलिए अपने गुस्से पर क़ाबू रखकर अपने पार्टनर को समझने की कोशिश करे। 

  1. कोई भी प्रतिक्रिया देने से पहले पूरी बात सुने।

     

कई बार कोई भी परेशान इंसान उसकी समस्या का हल पाने से पहले चाहता है की कोई उसकी पूरी बात को अच्छे से सुन ले। ऐसे में आप उनको सुने बिना अपनी बात कहने की जल्दबाज़ी कभी ना करे। हालातों को समझ कर ही प्रतिक्रिया दें।

 

  1. अच्छा दोस्त बनना ज़रूरी है।

     

यह रिश्ता भले ही प्यार को हो लेकिन दोस्ती इसे और मज़बूत बना देंगी इसीलिए अपने साथी के दोस्त बनिए ताकि वह आपसे कुछ भी शेयर करने से कभी पीछे ना हटे। 

 

याद रखिए! जितनी परिपक्वता से आप इस रिश्ते को निभाएंगी, उतनी ही पारदर्शिता आपके रिश्ते मे आएंगी और आपके रिश्ते को लंबी उम्र मिलेगी।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.